February 24, 2024
pale se fasl ko kese bachaye

किसी भी फसल को पाले से बचाने के किसान बंधु करे इन दवाइयों का छिड़काव , पाले से नहीं होगा फसल को कोई नुकसान

Rate this post

किसान दर्शको अगर आपने ऐसी फसलों की बुवाई कर रखी है जिसे पाले से नुकसान होनी की संभावना है तो आप इस पोस्ट को पढ़कर निचे बताई हुई दवाइयों का स्प्रे कर सकते है और अपनी फसल को पाले से बचा सकते है |

pale se fasl ko kese bachaye

पाले से फसल को बचाने के लिए इन दवाईयों का करे उपयोग

फसलों को पाले के प्रभाव से बचाने के लिए देशी जुगाड़ के अलावा दवाईयों का भी छिड़काव कर सकते है. पाला पड़ने के समय के दौरान किसान फसलों पर गंधक का तेजाब, यूरिया और घुलनशील सल्फर को पानी में मिलाकर छिड़काव करें |

फसल पर छिड़काव के लिए इन सभी रसायनिकों दवाईयों की मात्रा पैकेट पर बताई गई माप के अनुसार ही ले. जैसे फसलों पर गंधक के तेजाब के 0.1 प्रतिशत घोल का छिड़काव करना चाहिए

यह भी पड़े – सोयाबीन के बाजार भाव में जोरदार तगड़ा उछाल , सोयाबीन तेजी मंदी की रिपोर्ट का हुआ असर

ऐसे करे छिड़काव

एक हेक्टर क्षेत्र में छिड़काव के लिए प्लास्टिक के स्प्रेयर से एक लीटर गंधक के तेजाब को 1000 लीटर पानी में मिलाकर छिड़कें. इस छिड़काव का असर फसल पर दो सप्ताह तक रहता है. अगर दो सप्ताह के बाद भी पारा गिरने और शीत लहर की संभावना है, तो गंधक के तेजाब को 15-15 दिन के अंतराल से दोहराते रहे

यह भी पड़े – प्रधानमंत्री सोलर योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन हुए शुरू , किसान बंधु ऐसे करे सोलर योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन

दवाईयों के छिड़काव से पौधों की कोशिकाओं में मौजूद जीवद्रव्य का तापमान बढ़ जाता है. जिससे फसल का पाले से बचाव होता है. बता दें, सरसों, चना, आलू, गेहूं और मटर की फसलों पर गंधक के तेजाब का छिड़काव करने से पाले के बचाव के साथ फसल में लौह तत्व की जैविक और रसायनिक सक्रियता बढ़ जाती है. जो पौधों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ान के साथ फसल को जल्दी पकाने में मददगार होती है |

यह भी पड़े – Soybean Teji Mandi Report 2024 – सोयाबीन के बाजार भाव में अब आ सकता है बड़ा उछाल , तेजी कारण जान कर चौक जायेंगे आप

WhatsApp Group Join Now

Google News  Join Now

अन्य मित्रो को शेयर करे

Shubham Rathor

I am Shubham Rathor From Madhya Pradesh, This Website I am Providing Kisan News And Mandi Bhav Releted Helpfull Information

View all posts by Shubham Rathor →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *