February 24, 2024
soybean teji mandi report

सरकार की मंदी की रिपोर्ट के बाद सोयाबीन की कीमतें तेजी के साथ बंद, देखे सोयाबीन तेजी मंदी से जुड़ी रिपोर्ट

5/5 - (1 vote)

आज की इस पोस्ट में सोयाबीन से जुडी मुख्य रिपोर्ट सोया के बाजारों में लगतार मंदी का दौर जारी हे | सोयाबीन के के वर्तमान भाव और आगे बाजारों में कितनी तेजी मंदी देखने को मिलेगी इसकी पूरी रिपोर्ट का अपडेट दिया गया हे |

व्यापारियों ने कहा कि शिकागो बोर्ड ऑफ ट्रेड का सोयाबीन वायदा गुरुवार को ऊंचे स्तर पर बंद हुआ, क्योंकि बाजार को ब्राजीलियाई फसल के आकार पर स्पष्टता और अधिक परिभाषा हासिल करने के लिए संघर्ष करना पड़ा।

अमेरिकी कृषि विभाग द्वारा ब्राजीलियाई सोया उत्पादन 156 मिलियन मीट्रिक टन आंकने के बाद सोयाबीन वायदा में गिरावट आई, जो जनवरी में 157 मिलियन टन से कम है – लेकिन विश्लेषकों की अपेक्षा से अधिक है।

यह भी पड़े- नये सरसों की सीजन व पुराने स्टाक को देखते हुए वर्तमान भाव में तेजी नहीं

यह पूर्वानुमान ब्राज़ीलियाई फसल एजेंसी कॉनब द्वारा गुरुवार को लगाए गए अनुमान से कहीं बड़ा है, जिसमें ब्राज़ील की 2023/24 सोयाबीन की फसल 149.4 मिलियन मीट्रिक टन आंकी गई थी।

लेकिन अमेरिकी सोया के अंतिम स्टॉक और बड़ी पुरानी फसल ब्राजील की सोया फसल पर यूएसडीए की मंदी की संख्या सबसे सक्रिय सीबीओटी मार्च सोयाबीन को बुधवार के निचले स्तर से नीचे धकेलने के लिए पर्याप्त नहीं थी।

एक व्यापारी ने रॉयटर्स को बताया कि, सत्र के अंत में, यूएसडीए के आंकड़ों पर संदेह करने वाले कुछ बाजार सहभागियों को लगा कि कीमतें इतनी कम हो गई हैं कि उन्होंने कुछ शॉर्ट-कवरिंग पाने के लिए खरीदारी की, खासकर मार्च और मई अनुबंधों में।

यह भी पड़े- सोयाबीन की कीमतों में फिर से आई जोरदार तेजी, जाने आज बाजारों में कितना रहा उछाल

सीबीओटी के नौ सोयामील वायदा अनुबंधों ने उस दिन नए न्यूनतम स्तर तय किए। मार्च सोयामील $4.10 की गिरावट के साथ $347.10 प्रति शॉर्ट टन पर बंद हुआ।

यूएसडीए ने 1 फरवरी को समाप्त सप्ताह में यूएस 2023/24 सोयाबीन की निर्यात बिक्री 340,800 मीट्रिक टन होने की सूचना दी, जो 400,000 से 1,000,000 टन की व्यापार अपेक्षाओं से कम है |

अन्य मित्रो को शेयर करे

Shubham Rathor

I am Shubham Rathor From Madhya Pradesh, This Website I am Providing Kisan News And Mandi Bhav Releted Helpfull Information

View all posts by Shubham Rathor →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *